Back to Top
तुलसीरचित श्रीरामचरितमानस अर्थ सहित Ramcharitmanas Screenshot 0
तुलसीरचित श्रीरामचरितमानस अर्थ सहित Ramcharitmanas Screenshot 1
तुलसीरचित श्रीरामचरितमानस अर्थ सहित Ramcharitmanas Screenshot 2
तुलसीरचित श्रीरामचरितमानस अर्थ सहित Ramcharitmanas Screenshot 3

About तुलसीरचित श्रीरामचरितमानस अर्थ सहित Ramcharitmanas

पढ़े तुलसीरचित श्रीरामचरितमानस हिंदी में :
गोस्वामी तुलसीदासजी कृत महाकाव्य श्रीरामचरितमानस हिन्दी में भावार्थ सहित यहाँ उपलब्ध है।
पढ़ें सारे दोहे - चौपाई - छंद - सोरठा - श्लोक सम्पूर्ण भावार्थ हिंदी में |

Some Features Of App:-
★ संपूर्ण रामायण- अर्थसहित ( तुलसीरचित श्रीरामचरितमानस ) हिंदी में - Sampurna Ramayan- Arth Sahit in Hindi
★ Completely Offline Content. No internet needed for reading
★ Rich Reading Experience, Clean Content
★ Less Than 4 MB.
★ This app is in easy Hindi Language.
★ Simple app.
★ Professionally designed, user-friendly and intuitive interface.
★ Easy To Use.
★ No in App Purchases. Complete Free App .
★ Good For Everyday Reading .
★ No Unwanted Ads.


श्री रामचरितमानस अवधी भाषा में गोस्वामी तुलसीदास द्वारा १६वीं सदी में रचित एक इतिहास की घटना है। इस ग्रन्थ को अवधी साहित्य (हिंदी साहित्य) की एक महान कृति माना जाता है। इसे सामान्यतः 'तुलसी रामायण' या 'तुलसीकृत रामायण' भी कहा जाता है। रामचरितमानस भारतीय संस्कृति में एक विशेष स्थान रखता है। रामचरितमानस की लोकप्रियता अद्वितीय है। उत्तर भारत में 'रामायण' के रूप में बहुत से लोगों द्वारा प्रतिदिन पढ़ा जाता है। शरद नवरात्रि में इसके सुन्दर काण्ड का पाठ पूरे नौ दिन किया जाता है। रामायण मण्डलों द्वारा मंगलवार और शनिवार को इसके सुन्दरकाण्ड का पाठ किया जाता है।

श्री रामचरित मानस के नायक श्रीराम हैं जिनको एक मर्यादा पुरोषोत्तम के रूप में दर्शाया गया है जोकि अखिल ब्रह्माण्ड के स्वामी श्रीहरि नारायण भगवान के अवतार है जबकि महर्षि वाल्मीकि कृत रामायण में श्री राम को एक आदर्श चरित्र मानव के रूप में दिखाया गया है। जो सम्पूर्ण मानव समाज ये सिखाता है जीवन को किस प्रकार जिया जाय भले ही उसमे कितने भी विघ्न हों तुलसी के प्रभु राम सर्वशक्तिमान होते हुए भी मर्यादा पुरुषोत्तम हैं। गोस्वामी जी ने रामचरित का अनुपम शैली में दोहों, चौपाइयों, सोरठों तथा छंद का आश्रय लेकर वर्णन किया है।

संपूर्ण 7 अध्याय हिन्दी में भावार्थ सहित :-
1.बालकाण्ड
2.अयोध्याकाण्ड
3.अरण्यकाण्ड
4.किष्किन्धाकाण्ड
5.सुन्दरकाण्ड
6.लंकाकाण्ड (युद्धकाण्ड)
7.उत्तरकाण्ड

पात्र :-
· दशरथ
· कौशल्या
· सुमित्रा
· कैकेयी
· जनक
· मन्थरा
· राम
· भरत
· लक्ष्मण
· शत्रुघ्न
· सीता
· उर्मिला
· मांडवी
· श्रुतिकीर्ति
· विश्वामित्र
· अहिल्या
· जटायु
· सम्पाति
· हनुमान
· सुग्रीव
· बालि
· अंगद
· जाम्बवन्त
· विभीषण
· ताड़का
· त्रिजटा
· शूर्पणखा
· मारीच
· सुबाहु
· खर-दूषण
· रावण
· कुम्भकर्ण
· मन्दोदरी
· मयासुर
· सुमाली
· मेघनाद
· प्रहस्त
· अक्षयकुमार
· अतिकाय
· कालनेमि
· लव
· कुश
· वेदवती
· सुलोचना
· तारा
· ऋष्यशृंग
· सुमन्त्र


Please take out a minute to Rate and Review our app.

author
सुंदर। अति सुंदर!!
manikchand p
author
बहुत ही अच्छा अनुभव रहा Very nice work done by the developer of this app. श्री राम जय राम जय जय राम
Govind Singh
author
Adbhut
Vishram Dhakar